Indian Railway main logo Welcome to Indian Railways RDSO Logo
   
View Content in Hindi
National Emblem of India

About Us

Directorates

Tenders

Vendor Interface

Specifications/Drawings

Contact Us

 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

World Environment Day -2022 observed in RDSO

आरडीएसओ में विश्व पर्यावरण दिवस-2022 मनाया गया

आरडीएसओ में 05.06.2022 को "ऑनली वन अर्थ" विषय के तहत विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया, जिसमें नीतियों के माध्यम से परिवर्तनकारी बदलाव लाने और स्वच्छ, हरित जीवन शैली के प्रति हमारी प्राथमिकता पर ध्यान केंद्रित करते हुए प्रकृति के साथ सद्भाव में रहने पर ध्यान दिया गया। पर्यावरण के संरक्षण और स्थिरता को प्राप्त करने के लिए, आरडीएसओ ने हाल के दिनों में कई कदम उठाए हैं जैसे- सभी पारंपरिक लैंपों को ऊर्जा कुशल एलईडी लैंप के साथ बदलना, पर्यावरण के अनुकूल रेफ्रिजरेंट “आर -32” सहित कंडीशनर का उपयोग जिसमें शून्य ओजोन क्षय क्षमता है। कार्यालयों और आवासीय क्षेत्रों से निर्दिष्ट अंतराल पर कचरे का अस्पतालों से चिकित्सकीय अपशिष्ट सहित उचित और नियमित संग्रह किया जाता है और इस कचरे को आवश्यकतानुसार निचली भूमि क्षेत्र में डंप किया जाता है।
1.6 मिलियन लीटर प्रति दिन (एमएलडी) की क्षमता वाला एक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) भी स्थापित किया गया है और उपचारित पानी की आपूर्ति पौधों और पेड़ों के लिए स्टेडियम और लॉन में की जा रही है। आरडीएसओ में भू-जल पुनर्भरण के लिए 07 स्थानों पर वर्षा जल संचयन संयंत्र भी स्थापित किए गए हैं। आरडीएसओ यात्री सेवाओं के लिए हाइड्रोजन ईंधन सेल आधारित हाइब्रिड पावर ट्रेन के विकास एवं हरित ऊर्जा के दोहन के लिए 1.08 मेगावाट सौर संयंत्र स्थापित करने की प्रक्रिया में है। इन सभी उपायों से कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी और हरित ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा मिलेगा।
आरडीएसओ में ई-ऑफिस के माध्यम से पेपरलेस वोर्किंग को सफलतापूर्वक लागू कर दिया गया है और सभी आधिकारिक कार्यों को पेपरलेस कर दिया गया है। कर्मचारियों और अधिकारियों की वेतन पर्ची जैसे कई अन्य उपाय डिजिटल रूप में आरईएसएस पर उपलब्ध कराए जा रहे हैं और सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को एच.आर.एम.एस. मोबाइल ऐप के माध्यम से पेपरलेस ई-पास जारी किया जा रहा है। UTHS निदेशालय ने मेट्रो सिस्टम के सभी तकनीकी दस्तावेजों को जमा करने, सत्यापन और अनुमोदन के लिए नवंबर 2020 में एक ऑनलाइन पोर्टल (https://uts.rcil.gov.in) भी विकसित किया है और इसे 100% पेपरलेस बना दिया गया है। इतना ही नहीं, आरडीएसओ में वेंडर पंजीकरण प्रक्रिया को पूरी तरह से कागज रहित और ऑनलाइन कर दिया गया है, जिसके परिणामस्वरूप न केवल समय और प्रयास की बचत हुई है, बल्कि समाचार प्रिंट के लिए पेड़ों पर बोझ भी कम हुआ है।
आरडीएसओ में 5 जून, 2022 को विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन बड़े जोश और उत्साह के साथ किया गया। आरडीएसओ में एक पर्यावरण जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया जिसमें आरडीएसओ के अधिकारियों और कर्मचारियों ने भाग लिया। इस अवसर पर महानिदेशक, श्री संजीव भुटानी ने आरडीएसओ में नव विकसित हार्मनी पार्क का उद्घाटन किया। श्री भुटानी ने इस पार्क में एक पौधा लगाया। अध्यक्षा/आर.डब्ल्यू.डब्ल्यू.ए श्रीमती निशा भुटानी ने भी कार्यक्रम में भाग लिया और एक पौधा लगाया। समारोह में श्री एस के जैन, एडीजी/आरडीएसओ और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे एवं सभी ने इस पार्क में आयोजित वृक्षारोपण में सक्रिय रूप से भाग लिया। इस अवसर पर डीजी, आरडीएसओ द्वारा सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पौधे भी वितरित किए गए । हरित आरडीएसओ को प्राप्त करने के लिए बड़ी संख्या में अधिकारियों व कर्मचारियों ने आरडीएसओ परिसर में विभिन्न स्थानों पर पौधे लगाये ।


World Environment Day -2022 observed in RDSO

World Environment Day was observed in RDSO o­n 05.06.2022 under the theme “Only o­ne Earth” with the focus o­n Living sustainably in harmony with nature by bringing transformative changes through policies and our preference towards cleaner, greener lifestyles. To achieve conservation and sustainability of environment, RDSO has taken many steps in recent past like- Replacement of all conventional lamps with energy efficient LED lamps, Use of Air conditioners provided with environmental friendly refrigerant R-32 which has zero ozone depleting potential . Proper and regular collection of waste at specified intervals from offices and residential areas, including medical wastes from the hospital is lined up and this waste is dumped at the low land area as required.  
    A Sewage Treatment Plant (STP) is also installed with the capacity of 1.6 Million Litres per Day (MLD) and treated water is being supplied to Stadium & Lawns for plants & trees. Rain water harvesting plants has also been installed at 07 locations for ground water recouping in RDSO. RDSO is in process of development of hydrogen fuel cell based hybrid power train for passenger services. RDSO is also in the process of setting up 1.08 MW Solar plant to harness green energy. All these measures will result into, reduction in carbon emissions and promote use of Green Energy.
      Paperless working through e-office has been successfully implemented in RDSO and all the official work has been made paperless. Many other measures like salary slip of employees and officers is made available in digital form o­n RESS and all officers & staff are being issued paperless E-pass through HRMS mobile app. UTHS Directorate has also developed an o­nline portal (https://uths.rcil.gov.in) in November 2020 for submission, verification and approval of all technical documents of Metro system and made it 100% paperless. Not o­nly this, vendor registration process in RDSO has been made fully paperless and o­nline which has resulted into not o­nly saving of time & effort but also reduced burden o­n trees for news prints.
    World Environment Day was organized in RDSO o­n 5th June, 2022 with great vigor and zeal. An environmental awareness camp was organized in RDSO which was attended by RDSO Officers and staff. DG Shri Sanjiv Bhutani inaugurated the newly developed Harmony Park in RDSO to mark this occasion. Shri Bhutani planted a tree sapling in this park. President/ RWWA Mrs. Nisha Bhutani also participated in the event and planted a tree sapling. Shri S. K. Jain, ADG/RDSO and other senior officers of RDSO were also present during the function and actively participated in the tree plantation held in this park. o­n this occasion saplings was also distributed to all officers and employees by DG, RDSO.  A large number of officers and staff planted trees at various places in RDSO campus to achieve greener RDSO.